2018-06-08

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री अश्वनी लोहानी ने एनसीपीसीआर के साथ संयुक्त रूप से “बच्चों के संरक्षण पर रेलवे के सहयोग से जागरूकता अभियान” की शुरूआत की

रेल मंत्रालय
रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री अश्वनी लोहानी ने एनसीपीसीआर के साथ संयुक्त रूप से “बच्चों के संरक्षण पर रेलवे के सहयोग से जागरूकता अभियान” की शुरूआत की

प्रविष्टि तिथि: 07 JUN 2018 5:51PM by PIB Delhi

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री अश्वनी लोहानी ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) की अध्यक्ष सुश्री स्तुति कक्कर के साथ आज जागरूकता फैलाने के प्रयास के तहत रेलवे के संपर्क में आने वाले यात्रियों के रूप में बच्चे, बर्बाद बच्चे, तस्करी कर लाए गए बच्चे, अपने परिवार से जुदा हुए बच्चों के संरक्षण के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया।इस अवसर पर श्री धर्मेन्द्र कुमार, आईपीएस, डीजी आरपीएफ, श्री विश्वेश चौबे, जीएम/उत्तर रेलवे, श्री आर एन सिंह, डीआरएम/दिल्ली प्रभाग और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर बोलते हुए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री अश्वनी लोहानी ने कहा, “यह अभियान पूरे रेलवे प्रणाली में बच्चों की सुरक्षा के मुद्दे को हल करने और सभी हितधारकों, यात्रियों, विक्रेताओं, कुलियों को संवेदनशील बनाने के लिए शुरू किया गया है। वर्तमान में, रेलवे के संपर्क में बच्चों की देखभाल और संरक्षण सुनिश्चित करने के लिए रेलवे की यह मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) 88 स्टेशनों पर सफलतापूर्वक लागू की गई है।आने वाले समय में हम इसे बढ़ाकर 174 स्टेशनों पर लागू करने वाले हैं।”

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) की अध्यक्ष सुश्री स्तुति कक्कर ने अपने संक्षिप्त संबोधन में कहा कि एनसीपीसीआर रेलवे मंत्रालय के इस तरह के प्रयास के लिए तहे दिल से आभारी है।उन्होंने कहा कि अन्य हितधारकों जैसे कुलियों/ पोर्टरों, स्टेशनों पर विक्रेताओं आदि का सहयोग भी बच्चों की सुरक्षा में बेहद उपयोगी है। उन्होंने बच्चों को तस्करी और बर्बद होने से बचाने के लिए तेजी से कार्रवाई करने में आरपीएफ के प्रयासों की भी सराहना की।

इस कार्यक्रम में बच्चों के संरक्षण के मुद्दे पर विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के बच्चों द्वारा नाट्य भी प्रस्तुत किया गया। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री अश्वनी लोहानी ने सुश्री स्तुति कक्कर, श्री धर्मेन्द्र कुमार, श्री विश्वेश चौबे का साथ रेलवे के संपर्क में आने वाले बच्चों की सुरक्षा और देखभाल हेतु जागरूकता बढ़ाने के लिए एक पोस्टर भी जारी किया।इस कार्यक्रम का समापन श्री आर एन सिंह, डीआरएम/दिल्ली प्रभाग के धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ।     


Source: PIB
***

1 comment:

  1. Very pro-poor rural families are remaining in this household opportunity.

    ReplyDelete

Click on the desired scheme to know the detailed information of the scheme
किसी भी योजना की विस्‍तृत जानकारी हेतु संबंध्‍ाित योजना पर क्लिक करें 
pm-awas-yojana pmay-gramin pmay-apply-online sukanya-samriddhi-yojana
digital-india parliamentray-question pmay-npv-subsidy-calculator success-story
faq mann-ki-bat pmjdy atal-pension-yojana
pm-fasal-bima-yojana pmkvy pmegp gold-monetization-scheme
startup-india standup-india mudra-yojana smart-cities-mission